नई दिल्ली। राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद छत्तीसगढ़ में भी सीएम के नाम का ऐलान हो गया है। कांग्रेस हाईकमान ने भूपेश बघेल के नाम पर मुहर लगा दी है। वहीं भूपेश बघेल को विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। कांग्रेस विधायक दल की बैठक अभी भी जारी है। इस बैठक में टीएस सिंहदेव, पीएल पुनिया और मल्लिकार्जुन खड़गे मौजूद हैं। बता दें कि भूपेश बघेल के अलावा चरणदास महंत, टीएस सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू भी रेस में शामिल थे। लेकिन उनके नाम पर सहमती नहीं बन पाई।

भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ का नया मुख्‍यमंत्री चुन लिया गया है। रायपुर में हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद बघेल के नाम की घोषणा कर दी गई। इस दौरान कांग्रेस के विजयी विधायकों के साथ केंद्रीय पर्यवेक्षकों के रूप में मौजूद मल्‍लिकार्जुन खड़गे और पीएल पुनिया भी उपस्थित थे। दिल्‍ली से लेकर रायपुर तक भूपेश बघेल का नाम ही मुख्‍यमंत्री पद के लिए पहली पसंद के रूप में सामने आ रहा था। शनिवार को दिल्‍ली में दिन भर चली बैठकों के बाद राहुल गांधी ने भूपेश बघेल के नाम पर मुहर लगाई। भूपेश बघेल सोमवार को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इस अवसर पर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी सहित कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता उपस्थित रहेंगे।

शनिवार को दिल्‍ली में राहुल के घर दिन भर चली माथापच्‍ची के बाद राज्‍य में मुख्‍यमंत्री का नाम तय किया गया। लेकिन दिल्‍ली में मुख्‍यमंत्री के नाम की घोषणा न कर इसे विधायक दल की बैठक तक टाल दिया गया। इसके बाद रविवार को भूपेश बघेल और चरणदास महंत रायपुर पहुंचे। थोड़ी देर बाद टीएस सिंह देव केंद्रीय पर्यवेक्षक पीएल पुनिया और मल्‍लिका‍र्जुन खड़गे के साथ चार्टर्ड विमान से रायपुर पहुंचे। वरिष्‍ठ नेताओं और मुख्‍यमंत्री पद के प्रत्‍याशियों के पहुंचने के बाद रायपुर में बघेल के नाम की घोषणा की गई। राज्य में इस चुनाव में 90 में से कांग्रेस ने 68 सीटों पर जीत हासिल की है। वहीं, भाजपा ने 15, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (श्र) ने 5 तथा बहुजन समाज पार्टी ने 2 सीटों पर जीत हासिल की है।