देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए टिहरी झील में सी—प्लेन चलाने की इजाजत बुधवार को दे दी । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में यहां राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया । बैठक के बाद कैबिनेट मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने संवाददाताओं को बताया कि भारत सरकार द्वारा सी—प्लेन चलाने के लिये भेजे गये मसौदे को राज्य मंत्रिमंडल ने स्वीकार कर लिया है ।

उन्होंने बताया कि भारत सरकार की योजना ‘उड़ान’ के तहत इस सी—प्लेन को टिहरी बांध पर बनी झील में चलाया जायेगा । इसके लिये उत्तराखंड सरकार, भारत सरकार और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण :एएआई: अलग से एक समझौता ज्ञापन :एमओयू: पर दस्तखत करेंगे । इसके अतिरिक्त, इसके लिये राज्य सरकार झील के आसपास ढाई एकड़ भूमि का प्रबंध भी करेगी । सी—प्लेन उड़ाने के लिये ‘‘वायबिलिटी गैप फंडिंग’’ की जायेगी जिसकी भरपाई केंद्र और राज्य सरकार क्रमश: 80 और 20 प्रतिशत के अनुपात में करेंगे ।

कौशिक ने बताया कि एक अन्य फैसले में देहरादून को स्मार्ट सिटी बनाने के लिये उत्तराखंड सरकार सिंगापुर की नेशनल यूनिवर्सिटी से करार करेगी । यह विश्वविद्यालय इस संबंध में एक अध्ययन करेगा और एक साल में इसकी रिपोर्ट तैयार कर सरकार को सौंपेगा । इस अध्ययन के लिये राज्य सरकार ढाई लाख डॉलर की राशि यूनिवर्सिटी को देगी ।