सिओल/बेंगलुरु।  ह्युंडई मोटर ग्रुप (द ग्रुप) और दुनिया के सबसे बड़े राइड-हेलिंग प्लेटफॉर्म्स में से एक ओला ने आज एक रणनीतिक साझेदारी की घोषणा की, जिसके तहत ह्युंडई मोटर कंपनी (ह्युंडई) और किआ मोटर्स कॉर्पोरेशन (किआ) के द्वारा स्मार्ट मोबिलिटी सॉल्यूशंस प्रोवाइडर बनने के लिए इस समूह के निरंतर प्रयासों के तहत अभी तक का सबसे बड़ा संयुक्त निवेश किया जाएगा।

उक्त समझौते के तहत तीनों कंपनियां बड़े पैमाने पर अद्वितीय बेड़े और मोबिलिटी सॉल्यूशंस विकसित करने में सहयोग करेंगी; भारतीय परिस्थितियों के मद्देनजर विशिष्ट विद्युतीय वाहनों (इलेक्ट्रिकल व्हीकल्स) और बुनियादी ढांचे का निर्माण करेंगी; इसके साथ-साथ ओला प्लेटफॉर्म पर विशिष्ट रूप से निर्मित (कस्टमाइज्ड) वाहनों के साथ इच्छुक ड्राइवर-पार्टनर्स के लिए अपनी श्रेणी के सर्वश्रेष्ठ अवसरों और पेशकशों का निर्माण भी करेंगी। ह्युंडईऔर किआ ओला में कुल 300 मिलियन अमेरिकी डॉलर का निवेश करेंगी।

ह्युंडई मोटर ग्रुप के एक्जीक्यूटिव वाइस चेयरमैन यूइसुन चुंग ने कहा, “भारत वैश्विक मोबिलिटी मार्केट में नेतृत्व हासिल करने के लिए ह्युंडई मोटर ग्रुप की रणनीति का केंद्र बिंदु है और ओला के साथ हमारी साझेदारी निश्चित रूप से खुद को स्मार्ट मोबिलिटी सॉल्यूशंस प्रदाता में बदलने के हमारे प्रयासों को तेज करेगी। ह्युंडई बाजार में निरंतर होने वाले बदलावों का प्रत्युत्तर देगी और अपने ग्राहकों को और अधिक संतुष्टि प्रदान करने के लिए लगातार नवप्रवर्तन करेगी।”

ओला के सह-संस्थापक और सीईओ भाविश अग्रवाल ने कहा, “हम हुंडई के साथ अपनी साझेदारी को लेकर बहुत उत्साहित हैं, क्योंकि ओला एक अरब लोगों के लिए नवप्रवर्तनशील और अत्याधुनिक मोबिलिटी सॉल्यूशंस निर्मित करने की ओर अग्रसर है। चूंकि हम अपने उपभोक्ताओं के लिए अपनी पेशकशों की सीमा का निरंतर विस्तार कर रहे हैं तो साथ मिलकर हम बाजार में मोबिलिटी सॉल्यूशन की एक नई पीढ़ी को लेकर आएंगे।” उन्होंने आगे कहा, “इस साझेदारी से हमारे प्लेटफॉर्म पर मौजूद ड्राइवर-पार्टनर्स को भी काफी फायदा होगा, क्योंकि हम ह्युंडई के साथ आने वाले समय में इन लाखों लोगों के लिए टिकाऊ कमाई को सक्षम बनाने वाले वाहनों और सॉल्यूशंस के निर्माण में सहयोग करने जा रहे हैं।”

समूह के द्वारा इस उद्योग में पहली बार कदम रखने के मद्देनजर रणनीतिक सहयोग के हिस्से के रूप में इन कंपनियों ने बेड़े के वाहनों को संचालित और प्रबंधित करने के लिए समाधानों का सह-निर्माण करने पर सहमति व्यक्त की है, क्योंकि वे ऑटोमोबाइल विनिर्माण और बिक्री से लेकर बेड़े के सम्पूर्ण समाधानों तक के कार्यों का विस्तार करने के लिए तत्पर हैं। उक्त साझेदारी के जरिये ओला ड्राइवरों को लीज और किस्त भुगतान सहित विभिन्न वित्तीय सेवाओं की पेशकश भी की जाएगी, जबकि वाहन के रखरखाव और मरम्मत संबंधी सेवाओं के जरिये ग्राहकों की संतुष्टि को बढ़ाने की भी उम्मीद है।

ह्युंडई, किआ और ओला ने राइड-हेलिंग मार्केट (उपयोगकर्ता और ड्राइवर, दोनों) की जरूरतों को प्रतिबिंबित करने वाली कारों और विशिष्टताओं को विकसित करने के प्रयासों के समन्वय के लिए भी सहमति व्यक्त की है। सेवा संचालन के दौरान संचित डाटा से ये कंपनियां स्थानीय आवश्यकताओं और विशिष्टताओं को बेहतर ढंग से पूरा करने के लिए निरंतर वाहन संबंधी सुधार करने में भी सक्षम होंगी। ह्युंडई मोटर ग्रुप खुद को एक ‘कार निर्माता’ से ‘स्मार्ट मोबिलिटी सॉल्यूशंस प्रोवाइडर’ में परिवर्तित करने संबंधी अपने प्रयासों के तेज होने की उम्मीद कर रहा है, क्योंकि इस साझेदारी की पहल समूह को सम्पूर्ण मोबिलिटी वैल्यू चेन के सभी पहलुओं में संलग्न होने में सक्षम बनाएगी, जिसमें वाहन उत्पादन, बेड़े का संचालन और मोबिलिटी सेवाएं भी शामिल हैं।

 

ओला का लक्ष्य 2022 तक मोबिलिटी इकोसिस्टम में आजीविका के 20 लाख से अधिक अवसर पैदा करना है। यह साझेदारी भारत के महत्वाकांक्षी ड्राइवर-पार्टनर्स के बढ़ते पूल में सूक्ष्म उद्यमिता को गति देने में मदद करेगी। ओला अपने प्लेटफॉर्म पर पहले ही 13 लाख से अधिक पार्टनरों की मेजबानी कर रहा है और वाहनों, वित्तीयन, बीमा और कई अन्य चीजों के संदर्भ में अनुरूप पेशकशों तक पहुंच के साथ पार्टनरों के लिए स्वामित्व की कुल लागत को काफी कम करते हुए लाखों और लोगों के सशक्तिकरण के लिए प्रयासरत है।