जौनपुर (उप्र)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘सपा-बसपा’ की ‘दोस्ती’ पर तंज करते हुए गुरुवार को कहा कि पांच साल पहले ही बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि ‘बाप से अधिक जहर’ बेटे में है। मोदी ने यहां एक चुनावी जनसभा में सपा-बसपा गठबंधन पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘पांच साल पहले ही इसी जौनपुर में बहन जी :मायावती: ने कहा था‘‘…. बाप:सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव: से अधिक जहर बेटे :सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव: में है … ।’ उन्होंने कहा, ‘तो बहन जी … ये भी तो जनता को बताइए कि क्या आप अब उस जहर को गरीब, दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित में बांटना चाहती हैं ।’ मोदी ने कहा ‘बहन जी को यूपी से बाहर करने का जो खेल खेला गया, वह उन्हें आज नहीं, 23 मई के बाद समझ आएगा ।’

उन्होंने कहा, ‘याद रखिए, इस समाजवादी खेल के बीच, जिन लोगों ने बाबा साहेब को भूमाफिया बताया, कदम-कदम पर अपमानित किया, उन्हीं के लिए अब बहन जी वोट मांग रही हैं ।’ मोदी ने कहा, ‘मुझे पता चला है कि देश की रक्षा और सुरक्षा से बेफिक्र, बुआ और बबुआ ने मुझे यहीं जौनपुर से आराम करने की सलाह दी है।’’ उन्होंने कहा, ‘मोदी तो सेवक है, और सेवक को आराम होता है क्या ? ये ऐसा सेवक है जो 365 दिन 130 करोड़ देशवासियों के लिए, दिन-रात लगा रहता है ।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि बुआ-बबुआ की सरकारों में किसी जिले में बिजली आपूर्ति की सुविधा नहीं थी। जहां का मंत्री जितना पावरफुल हो, वहां उतनी ही ज्यादा बिजली आती थी । उन्होंने कहा, ‘इतना ही नहीं जो सत्तासीन पार्टी का वोटबैंक नहीं है, उसको सुविधाओं से वंचित किया जाता था … लेकिन योगी जी की अगुवाई में भाजपा सरकार आई, तो सबका साथ, सबका विकास के मंत्र के अनुरूप आज बिना किसी भेदभाव के सबके घर बिजली पहुंच रही है ।’