नई दिल्ली।  केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने आज नई दिल्ली के नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को भेंट किये गए उपहारों की प्रदर्शनी सह ई-नीलामी का उद्घाटन किया। इस अवसर पर बोलते हुए श्री पटेल ने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी भारत के ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने स्वयं को भेंट किये गए सभी उपहारों की नीलामी का उपयोग नमामि गंगे के जरिये देश की जीवन रेखा मानी जानी वाली नदी- गंगा नदी के संरक्षण जैसे अच्छे कार्य के लिए करने का निर्णय लिया है। संस्कृति मंत्री ने कहा कि इन स्मृति चिन्हों के मूल्य का आकलन मौद्रिक रूप में नहीं किया जा सकता है, लेकिन इन उपहारों से जुड़ी भावनाओं का मूल्य काफी अधिक है जिसका आकलन नही किया जा सकता। उन्होंने यह भी कहा कि शीर्ष 20 बोलीदाताओं को नमामि गंगे परियोजना में उनके योगदान के लिए भारत सरकार की ओर से बधाई पत्र भेजे जाएंगे।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह भारत के प्रधानमंत्री को भेंट किये गए प्रतिष्ठित एवं यादगार उपहारों की ई-नीलामी का दूसरा दौर है। उन्होंने आगे कहा कि इस प्रदर्शनी का आयोजन आज से लेकर 3 अक्टूबर 2019 तक वेब पोर्टल www.pmmementos.gov.in पर किया जाएगा। संस्कृति मंत्री ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि इस दौर में 2700 से अधिक स्मृति चिन्हों की ई-नीलामी होगी। फिलहाल लगभग 500 स्मृति चिन्हों को नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (एनजीएमए) में “स्मृति चिन्ह” शीर्षक के साथ सुबह 11 बजे से शाम 8 बजे तक आम जनता के लिए के प्रदर्शित किया गया हैं। प्रदर्शित किये गए स्मृति चिन्हों को हर हफ्ते बदल दिया जाएगा। एनजीएमए के प्रशासनिक विंग में कलात्मक रूप से प्रदर्शित किए गए उपहारों में पेंटिंग, स्मृति चिन्ह, मूर्तियां, शॉल, पगड़ी, जैकेट और पारंपरिक वाद्ययंत्र आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इन स्मृति चिन्हों का न्यूनतम आधार मूल्य 200 रुपये और अधिकतम आधार मूल्य 2.5 लाख रुपये है।
उन्होंने यह भी बताया कि स्मृति चिन्हों में 576 शॉल, 964 अंगवस्त्रम, 88 पगड़ियां और विभिन्न प्रकार के जैकेट शामिल हैं जो हमारे देश की विविध एवं रंगारंग संस्कृति को दर्शाते हैं। उन्होंने कहा कि इस नीलामी से जुटाई गई रकम का इस्तेमाल “नमामि गंगे” परियोजना के लिए किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान संस्कृति मंत्रालय के सचिव श्री अरुण गोयल भी उपस्थित थे।
प्रथम चरण- संस्कृति मंत्रालय के तत्वावधान में नई दिल्ली की नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट ने 27 और 28 जनवरी 2019 को विभिन्न अवसरों पर प्रधानमंत्री को भेंट किये गए 1800 स्मृति चिन्हों की भौतिक नीलामी का आयोजन नई दिल्ली की नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट में किया गया। शेष वस्तुओं की ब्रिकी ई-नीलामी के माध्यम की गई।
नीलामी से जुटाई गई रकम का उपयोग “नमामि गंगे” परियोजना के लिए किया गया।
एनजीएमए में आयोजित भौतिक नीलामी की प्रमुख विशेषता यह थी कि विशेष दस्तकारी वाली लकड़ी की बाइक के लिए 5 लाख रुपये की बोली सफलतापूर्वक प्राप्त हुई। एक अनोखी पेंटिंग के लिए भी इसी तरह की बोली प्राप्त हुई थी, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी को एक रेलवे प्लेटफॉर्म पर दिखाया गया है- जो रेलवे के साथ नरेन्द्र मोदी के विशेष लगाव को कलात्मक रूप से प्रस्तुत करता है।