LIVE NOW
UP ELECTION LIVE UPDATE: शिव की नगरी काशी हुई मोदी मय। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में शुक्रवार को मेगा शो के जरिए पूर्वांचल के अंतिम और सातवें चरण के 9 जिलों की 54 विधानसभा सीटों को साधने की कोशिश। नरेंद्र मोदी रोड शो की शुरुआत मलदहिया स्थित सरदार पटेल की मूर्ति पर माल्यार्पण करके किए। मोदी श्री काशी विश्वनाथ धाम में बाबा विश्वनाथ का दर्शन किए। पीएम ने असि स्थित पप्पू के चाय की दुकान पर बैठ कर चाय की चुस्की भी ली। मोदी ने बीएचयू गेट स्थित भारत रत्न मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उमड़ी भीड़ का अभिवादन स्वीकार किया। पीएम का रोड शो तीन विधान सभा क्षेत्रों से होकर गुजरा। मोदी के रोड शो दौरान काशी केसरिया रंग में रंगी दिख रही थी।
काशी के सड़कों पर उतरा जन सैलाब स्वभाविक रूप से मोदी के साथ नज़र आ रहा था। काशी की जनता को सिर्फ़ मोदी के आने के बारे में बताया गया था। ऐसे में काशी के सड़को पर उतारा हुज़ूम हर-हर महादेव और गुलाब के पंखुड़ियों से अपने सांसद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जबरदस्त स्वागत किया। गमछा और टोपी लगाए मोदी बनारसी बाबू के रूप में दिखे। सरदार पटेल के मूर्ति पर माल्यार्पण करने के बाद मोदी का रोड शो जैसे ही लहुराबीर की और बढ़ा सड़क के दोनों किनारे रोड शो में उमड़े जन सैलाब के स्वागत से काशी केसरिया रंग में रंग गई । मोदी के स्वागत में काशी को सजाया गया था।भाजपा के झंडे ,बैनर ,बैलून ,ध्वज ,पताका सड़को पर लहरा रहे थे। छतों और सड़क के किनारे खड़ी महिला ,पुरुष, वृद्ध और बच्चों ने ग़ुलाब  के पंखुड़ियों को बरसा कर स्वागत किया। जनसैलाब इतना उमड़ा था की खुद मोदी को हाथों से आगे बढ़ने का इशारा करना पड़ा।
रोड शो के रूट पर जगह-जगह  स्वागत के लिए छोटे -छोटे मंच बनाए थे। मंचो पर  बनारस की संस्कृति और परंपरा झलक रही थी। होली के पहले काशी की फ़िजा में भगवा ग़ुलाल उड़ाते लोग दिखे वहीं महादेव के रूप में मसाने की होली खेलने का नजारा देखने को मिला। धोबिया नृत्य की तस्विर दिखी ,रास्ते में बड़े-बड़े बैनर पर लगी तस्वीर बनारस के विकास की कहानी बयान कर रहे थे। सड़क पर खड़ी जनता को मोदी ने हाथ हिलाकर अभिवादन किया तो वही घरों  की छतों पर स्वागत के लिए खड़े काशी वासियों का हाथजोड़कर अभिवादन स्वीकार किया। वह जनता पर माला और फूल बरसाते दिखे।
मोदी काशी विश्वनाथ धाम पहुँच कर बाबा विश्वनाथ की पूजा की और शिख़र दर्शन भी किए। मोदी ने बाबा से जीत का आशीर्वाद माँगा। हाल ही में गर्भ गृह में लगे सोने की सुनहरी आभा को निहारते हुए उन्होंने नव्य और भव्य धाम को मंदिर परिसर में घूम के देखा। मोदी के स्वागत में डमरू नाद कर रहे डमरू दल से मोदी ने डमरू भी बजाया। मोदी का  रोड शो यही ख़त्म हो गया था। लेकिन काशी की यात्रा चालू थी। मोदी  सोनारपुरा होते हुए असि पहुंचे तो मशहूर पप्पू की चाय की अड़ी पर चाय की चुस्की लेते हुए बनारस के बारे में चर्चा की। वह काशी हिन्दू विश्विद्यालय के संस्थापक भारत रत्न मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उमड़ी भीड़ का हांथ जोड़ कर अभिवादन स्वीकार करते हुए विक्ट्री की मुद्रा में दिखे। मोदी की यात्रा बीएचयू गेट पर समाप्त हुई।
पूर्वांचल की राजनीतिक राजधानी माने जाने वाली काशी से दिया गया सन्देश का असर पूर्वांचल के सीटों पर पड़ता है । वाराणसी में वर्ष 2014 ,2017 और 2019 में भी रोड शो करके मोदी ने मैजिक दिखाया था। 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत मिला था। और 2017 के विधानसभा में वाराणसी की आठों सीट पर जीत हासिल कर पूर्वांचल में बीजेपी का परचम लहराते हुए उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाई थी। इसी जीत को 2022 में दोहराने के लिए मोदी ने मेगा रोड शो के ज़रिए पूर्वांचल के अंतिम और सातवें चरण के चुनाव के चक्रव्यू को तोड़ने के लिए 9 जिलों की 54 विधानसभा सीटों को साधने की कोशिश की है। रोड शो शहर उत्तरी ,शहर दक्षिणी और कैंट विधान सभा से होकर गुजरा। रोड शो लहुराबीर, कबीरचौरा, लोहटिया, बुलानाला, मैदागिन, चौक से काशी विश्वनाथ धाम पंहुचा था।