Uttar Pradesh Live Update: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सड़क सुरक्षा को लेकर काफी गंभीर हैं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि नगर निकाय सड़क सुरक्षा और अतिक्रमण को लेकर नियमित मानिटरिंग की जाए और प्रत्येक सप्ताह इसकी रिपोर्ट दी जाए। रिपोर्ट में सड़कों पर अतिक्रमण और विभाग द्वारा की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी देनी होगी। मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने शनिवार को उच्चस्तरीय बैठक में इस बाबत अधिकारियों को निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने यातायात विभाग के अधिकारियों को फील्ड में उतरने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि अवैध टैक्सी स्टैंड, बस स्टैंड, रिक्शा स्टैंड आदि को तत्काल समाप्त कराया जाए। ऐसे स्टैंड पर अवैध वसूली और माफिया/आपराधिक प्रवृत्ति के तत्वों की संलिप्तता होती है, इनकी पहचान कर बिना विलम्ब कठोरतम कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि पार्किंग की स्थायी जगह सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कों पर अतिक्रमण की समस्या को समाप्त करना होगा। स्थानीय प्रशासन के अधिकारीगण व्यापार मंडलों के साथ संवाद कर इसका समाधान सुनिश्चित कराएं। पटरी व्यवसायियों के लिए स्थान का चिन्हांकन करते हुए उनके पुनर्वास की विधिवत व्यवस्था की जाए। व्यापारियों से संवाद बनाकर यह सुनिश्चित कराएं की हर दुकान अपनी सीमा के भीतर ही हो।

मुख्यमंत्री ने यातायात विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को फील्ड में उतरने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि शासन स्तर के विभागीय अधिकारी जिलों में जाएं। पार्किंग, यातायात आदि की व्यवस्था का आकलन करें। स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर व्यापारियों से संवाद करें।