विराट कोहली ने टी20 और वनडे के बाद छोड़ी टेस्ट कप्तानी

विराट कोहली (Virat Kohli) ने शनिवार को टेस्ट फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक भावुक पोस्ट लिखकर इसकी घोषणा की और अपने फैंस को हैरान कर दिया. विराट ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup-2021) से पहले ही खेल के सबसे छोटे फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया था. इसके बाद वनडे टीम की कप्तानी उनसे छीन ली गई थी. अब उन्होंने सबसे लंबे फॉर्मेट में भी कप्तानी छोड़ दी है.
33 साल के विराट कोहली ने 2014 में टेस्ट फॉर्मेट में कप्तानी संभाली थी. उन्होंने अब तक अपने टेस्ट करियर में 99 मैच खेले हैं और 7962 रन बनाए. इनमें से 68 मुकाबलों में विराट ने भारतीय टेस्ट टीम का नेतृत्व किया और इस दौरान कुल 5864 रन बनाए. वहीं, कप्तानी नहीं करते हुए उन्होंने 31 टेस्ट मैच खेले और 2098 रन बनाए.

सोशल मीडिया पर लिखा भावुक संदेश

विराट ने कप्तानी छोड़ने की घोषणा एक बयान जार कर की जिसमें उन्होंने कहा, “मैंने सात साल तक टीम को कड़ी मेहनत से सही दिशा में ले जाने की कोशिश की. मैंने अपना काम पूरी ईमानदारी से किया और कुछ भी कमी नहीं छोड़ी. हर चीज का कभी न कभी अंत होता है और अब मेरे टेस्ट कप्तान के सफर का भी हो गया.”
उन्होंने कहा, “इस सफर में कई उतार चढ़ाव रहे. लेकिन कभी भी प्रयास और विश्वास की कमी नहीं रही. मैंने हमेशा हर चीज में अपना 120 प्रतिशत देने में विश्वास रखा. अगर मैं ये नहीं कर सका तो मुझे पता था कि ये सही चीज नहीं है मेरे दिन में पूरी स्पष्टता है.

विराट के टेस्ट कप्तान का पद छोड़ने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने भी सोशल मीडिया के जरिये ही अपना रिएक्शन दिया है.