पूरी तरह सिंथेटिक, बेहतरीन शेल हेलिक्स एचएक्स8 अब भारत में उपलब्ध

नई दिल्ली। फिनिश्ड लुब्रिकेंट्स में दुनिया की अग्रणी कंपनी शेल लुब्रिकेंट्स ने आज पूरी तरह सिंथेटिक ’’शेल हेलिक्स एचएक्स8’’ की लाॅन्चिंग की घोषणा की। भारत में यह सभी गाड़ियों के लिए उपयुक्त है जिनमें एसयूवी, हैचबैक, सेडान, एमयूवी शामिल है। ड्राइवरों के लिए विभिन्न फायदों के साथ-’’शेल हेलिक्स एचएक्स8’’ अत्यधिक जोखिम वाले और महत्वपूर्ण इंजन के हिस्सों के आसपास सुरक्षात्मक कवच तैयार कर देता है जो 40 फीसदी बेहतर वियर और 78 फीसदी बेहतर कोरोजन सुरक्षा मुहैया कराने के साथ ही 58 फीसदी आॅक्सीडेशन स्थिरता और हाई-टेंपरेचर डिपाॅजिट कंट्रोल वर्सेज इंडस्ट्री रेफरेंस आॅयल मुहैया कराता है। 850 रुपये प्रति लीटर की कीमत पर सिंथेटिक इंजन आॅयल भारत में 3.5 लीटर, 4.5 लीटर और 1 लीटर के पैक में उपलब्ध है।
इस नई शुरूआत के बारे में मानसी त्रिपाठी, कंट्री जनरल मैनेजर, शेल लुब्रिकेंट्स, इंडिया ने कहा कि ’इंजन किसी भी वाहन का दिल होता है और बेहतर प्रदर्शन, लंबे जीवन और अच्छी यात्रा के लिए इसे सही इंजन आॅयल से सुरक्षित रखने की जरूरत होती है। हमने यह रुझान देखा है कि उपभोक्ता काफी तेजी से सिंथेटिक मोटर आॅयल का रुख कर रहे हैं। भारत का आॅटोमोटिव कार श्रेणी प्रति वर्श 9 फीसदी प्रति वर्ष की दर से वृद्धि कर रहा है जहां एसयूवी प्रति वर्ष 30 फीसदी से अधिक की षानदार दर से वृद्धि कर रही है। (स्रोत सियाम/उद्योग अनुमान 2016-17)। ज्यादातर एसयूवी टर्बोचार्ज इंजन से चलती हैं जो छोटी क्षमता के लिए अधिक पावर आउटपुट मुहैया कराता है जिसका मतलब है कि इंजन के महत्वपूर्ण हिस्सों पर अधिक जोर पड़ता है। इसलिए हमने ऐसे इंजन आॅयल की जरूरत समझी जो हर ड्राइव में गंभीर परिस्थितियों में ढलता और इंजन की सुरक्षा करता है। ’’षेल हेलिक्स एचएक्स8’’ के साथ हम उपभोक्ताओं की बदलती मांग को पूरा करने में सक्षम हो सकेंगे और भारतीय बाजार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को मजबूती दे सकेंगे और अपने पोर्टफोलियो का विस्तार कर सकेंगे।’’
गाड़ियों के इंजन को विभिन्न इलाकों में जाना होता है और शहर की भीड़, हाईवे एक्सीलरेशन, तेज चढ़ाई और कोल्ड स्टार्ट जैसी मुश्किल परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। हालांकि, मानक इंजन आॅयल ऐसी दशाओं का सामना कर पाने सक्षम नहीं है और इंजन को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने में सक्षम नहीं हो सकते हैं। 100 फीसदी सिंथेटिक बेस स्टाॅक से बनाया गया है जिसमें कम ही अनचाहे तत्वों से युक्त होता है। ’’शेल हेलिक्स एचएक्स8’’ के साथ फ्लेक्सी माॅलिक्यूल टैक्नोलाॅजी कई ड्राइविंग दषाओं को अपनाने के लिहाज से उपयुक्त है और इंजन को पूरी तरह सुरक्षा मुहैया कराना है। शेल हेलिक्स एचएक्स8 में डायनमिक फ्लेक्सी माॅलिक्यूल इंजन के तनाव के स्तर में बदलाव करने के लिए सक्रिय होता है, ईंधन इकोनाॅमी को बेहतर बनाता है और दबाव पड़ने पर इंजन का टिकाऊपन सुनिश्चित करता है। कुल मिलाकर कम तापमान में 30 फीसदी तेज प्रवाह का परिणाम देता है जिससे इंजन के महत्वपूर्ण हिस्सों तक तेल तेजी से पहुंचते हैं जिससे आसान स्टार्टिंग और गर्म होने में मदद करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.