विशाल और मेघना मलकान  ने शेयर कारोबार को बनाया बेहद आसान

नई दिल्ली। कोई भी शेयर का कारोबार कर सकता है! मलकान्सव्यू के सह-लेखक विशाल और मेघना मलकान ने हाल ही अपनी पुस्तक ‘कैशटेग्स – हाऊ एनीवन केन गेट स्टार्टेड इन स्टाॅक मार्केट्स एंड लेवल अप एज ए पावर ट्रेडर – स्टाॅक ट्रेडिंग सिम्प्लीफाइड‘ को जारी किया है। मलकान्सव्यू स्टॉक ट्रेडिंग और निवेश पर केंद्रित भारत की सबसे बड़ी शिक्षा और प्रशिक्षण कंपनियों में से एक है।
यह समझाने के अलावा कि व्यापार के लिए सही माइंड-सेट कैसे बनाया जाए और उचित जोखिम प्रबंधन और सरल ट्रेडिंग सिस्टम को कैसे अपनाया जाए, ‘कैशटेग्स‘ में आपको डॉ वान थार्प, डॉ सी के नारायण और रामदेव अग्रवाल जैसे विशेषज्ञों का दृष्टिकोण भी मिलता है। सरलता पर ध्यान देने के साथ-साथ लेखक बताते हैं कि कैसे सरल तकनीकी तरीकों को चित्रित करके तकनीकी विश्लेषण के साथ शुरुआत की जाए, जिसे कोई भी आसानी से समझ सकता है और लागू कर सकता है।
विशाल बी मलकान कहते हैं, ‘‘कोई भी सरल ट्रेडिंग सिस्टम के साथ शेयर बाजार में कारोबार कर सकता है। लेकिन सिर्फ तभी जब आप सही उपकरणों, सिस्टम्स और जोखिम प्रबंधन के बारे में जानकारी रखते हैं और सही मानसिकता रखते हैं। ‘कैशटेग्स‘ आपको यह सब समझने में मदद करती है। यह शेयर बाजार से जुड़े सभी मिथकों को तोड़ते हुए आगे बढती है, साथ ही ट्रेडिंग के बारे में वर्षों से प्रचलित नुकसानदेह मान्यताओं की चर्चा करती है और साथ ही साथ उनसे निपटने के लिए समाधान भी प्रदान करती हं। किताब में इस बात का खुलासा भी किया गया है कि कैसे स्टाॅक ट्रेडिंग को एक कारोबार/पेशे के रूप में अपनाया जाए। किताब में आपको एक उपयोगी, चरण-दर-चरण रूपरेखा मिलती है, ताकि आप स्मार्ट तरीके से ट्रेडिंग शुरू कर सकें। जानें कि मौलिक और तकनीकी विश्लेषण कैसे काम करते हैं और पहले वाले की तुलना में उत्तरार्द्ध बेहतर क्यों है।‘‘
मेघना वी मलकान का कहना है, “दरअसल ‘कैशटेग्स‘ एक सरल और ज्ञानवर्धक पुस्तक है, जिसमें आपको उन सभी बुनियादी समस्याओं का सरल समाधान मिलेगा, जिसका सामना हर कारोबारी को करना होता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह पुस्तक व्यापारिक व्यवसाय में भावनाओं से निपटने के लिए है और खरीद और बिक्री के लिए सरल, वस्तुनिष्ठ नियमों को सूचीबद्ध करती है। ट्रेडिंग में उचित जोखिम प्रबंधन को बनाए रखने पर भी जोर दिया गया है, साथ ही साथ एक सरल जोखिम प्रबंधन फॉर्मूला है जो आपके ट्रेडिंग प्रदर्शन में आवश्यक सुधार लाएगा। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप साक्षात्कार के रूप में उन लोगों के दृष्टिकोण को जान सकेंगे, जो दुनिया भर में कामयाब कारोबारी और निवेशक के तौर पर पहचाने जाते हैं।”
भारत के प्रमुख तकनीकी विश्लेषक और तकनीकी विश्लेषण के लिए ‘‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड‘‘ हासिल करने वाले डॉ सी के नारायण अपनी प्रस्तावना में कहते हैं, ‘‘मेरा मानना है कि ‘कैशटेग्स‘ एक ऐसी पुस्तक है जिसकी इस समय काफी आवश्यकता है, जब लोग सूचनाओं के अत्यधिक प्रवाह और संभवतः गलत सूचनाओं से जूझ रहे हैं। यह सबसे नए खिलाड़ियों के लिए एकदम सही नुस्खा है। किसी भी मेंटाॅर की भूमिका एक दिन या एक सप्ताह या एक वर्ष के लिए ही सीमित नहीं है, यह भूमिका तो दरअसल पूरे जीवनभर चलती रहती है। इसलिए कोई भी व्यक्ति जीवन में एक मार्गदर्शक की आवश्यकता को कम नहीं कर सकता है, चाहे वह ट्रेडिंग हो या अन्य कुछ।‘‘
पुस्तक का मूल्य है- 996 रुपए (साॅफ्टकवर) और 1,599 रुपए (हार्डकवर)। इस अद्भुत पुस्तक के साथ आपको मिलने वाले विशेष बोनस में शामिल हैंः जम्पस्टार्ट – 6-पार्ट की वीडियो श्रृंखला, जो तकनीकी विश्लेषण के आधारभूत सिद्धांतों की चर्चा करती है और वीडियो आॅन 2 स्ट्रेटेजीस फ्राॅम ‘रुकैशटेग्स‘, जिन पर आप तुरंत कार्रवाई कर सकते हैं, और ट्रेडर्स सक्सेस पिरामिड (5-पार्ट वाली वीडियो श्रृंखला)।
‘कैशटेग्स‘ आपको यह जानने में मदद करती है कि शेयर बाजारों में जोखिम की आशंका पर कैसे काबू पाएं, मार्केट से जुडे और लंबे समय से चले आ रहे मिथकों को कैसे तोड़ें और सीमित मान्यताओं से परे कदम रखें जो आपको ट्रेडिंग/निवेश में फिर से सफलता दिला सकते हैं। शेयर बाजार में अपने लाभ को खोने के चक्र को तोड़ें और बाजार में फिर से वापसी करें, इस सच्चाई को जानें कि बाजार किस तरह से व्यवहार करते हैं, एक शक्तिशाली लेकिन अत्यंत सरल जोखिम प्रबंधन फार्मूले का उपयोग करें जिसे कोई भी लागू कर सकता है, एक जटिल और बोझिल वित्तीय दुनिया में पैसा बनाने के लिए एक कदम-दर-कदम तरीके, सरलीकृत दृष्टिकोण को जानें, उन सिद्धांतों की खोज करें जिनकी सहायता से लोगों ने बेहद साधारण तरीके से शुरुआत करते हुए व्यापार और निवेश की दुनिया में बेहद कामयाबी हासिल की है।
‘कैशटेग्स‘ में मनोविज्ञान, स्थिति आकार, प्रणाली, कारोबार के रूप में ट्रेडिंग और कई अन्य महत्वपूर्ण विषय शामिल किए गए हैं। ट्रेडिंग में सफलता हासिल करने के पीछे कौन सी बातें शामिल हैं, यही इस किताब का ओवरव्यू है। जैसा कि डॉ वान थार्प कहते हैं कि यह अहसास होना कि अपने परिणामों के लिए आप खुद ही जिम्मेदार हैं, यही सफल निवेश की कुंजी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.