अलीगढ़। तीन वर्ष की मासूम बच्ची की नृशंस हत्या के मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में टप्पल थाना प्रभारी सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है । बच्ची 30 मई को गायब हुई थी लेकिन मामला 31 मई को दर्ज किया गया । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने पीटीआई—भाषा को बताया कि पुलिस क्षेत्राधिकारी पंकज श्रीवास्तव द्वारा की गयी जांच के आधार पर गुरुवार को निलंबन की कार्रवाई की गयी ।

उन्होंने बताया कि मामले की आगे जांच के लिए पुलिस अधीक्षक ग्रामीण एवं एक महिला इंस्पेक्टर सहित छह सदस्यीय विशेष जांच टीम :एसआईटी: बनायी गयी है । कुलहरि ने बच्ची के पिता बनवारी लाल शर्मा से मुलाकात कर उन्हें समझाया बुझाया कि वह आमरण अनशन न करें । शर्मा ने आमरण अनशन की धमकी दी थी । बच्ची के पिता की मांग है कि कथित हत्यारों के परिवार वालों को भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए ।