नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि दिल्ली में सौर ऊर्जा का उत्पादन चार वर्षों में सात मेगावाट से बढ़कर 177 मेगावाट हो गया है। इसके साथ ही उन्होंने एक मिशन के तौर पर इसे अपनाने पर जोर दिया। केजरीवाल ने कहा, ‘‘पिछले चार वर्षों में, दिल्ली में सौर ऊर्जा का उत्पादन करीब सात मेगावाट से बढ़कर 177 मेगावाट हो गया है, लेकिन यह पर्याप्त नहीं है क्योंकि दिल्ली में इसके लिए काफी संभावना है। जरूरत इस बात की है कि सौर ऊर्जा को एक मिशन के रूप में अपनाया जाए।’’

वह मंडी हाउस क्षेत्र में लेडी इरविन कॉलेज में 218 किलोवाट क्षमता के एक सौर संयंत्र का उद्घाटन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि दिल्ली में सौर ऊर्जा के विकास की गति धीमी रही है क्योंकि लोगों को इसके बारे में बहुत जानकारी नहीं है। लेकिन दिल्ली सरकार ने रिहायशी इलाकों और खेती में इसके प्रचार को लेकर दो नीतियां तैयार की है। केजरीवाल ने कहा कि सौर ऊर्जा से किसानों की प्रति एकड़ आय 3-4 गुना बढ़ाने में मदद मिल सकती है।