सूचनाओ के बेहतर प्रवाह के लिए कार्यरत हैं अनुज कुमार झा

समृद्धि भटनागर

उत्तर प्रदेश के वर्तमान सूचना निदेशक अनुज कुमार झा अपनी कार्यशैली से एक नई कहानी लिखने को बेताब हैं। लोगों को कैसे सही और सकारात्मक सूचनाएं पहुचंे, प्रदेश सरकार जो राज्यहित में और जनहित में कार्य कर रही है, उसे कैसे जन जन तक पहुंचाया जाए, इसके लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा 2009 बैच के अधिकारी अनुज कुमार झा दिन रात मेहनत कर रहे हैं। सबसे बडी बात यह है कि वे एक टीम वर्क के रूप में कार्य करते हैं, जाहिरतौर पर जिसका परिणाम सकारात्मक होता है।
हाल ही में प्रदेश के सूचना निदेशक अनुज कुमार झा ने नई दिल्ली स्थित ईरान कल्चरल हाउस से सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित उर्दू मासिक साहित्यिक पत्रिका ’नया दौर’ को भेजे गए प्रशंसा पत्र पर ईरान के सांस्कृृतिक काउंसलर को धन्यवाद पत्र भेजा है। इस पत्र में श्री झा ने कहा कि प्रशंसा पत्र सूचना विभाग के लिए प्रेरणादायी है। उन्होंने इस पत्र में कहा है कि ’नया दौर’ पूरी उर्दू दुनिया की लोकप्रिय एवं प्रतिष्ठित पत्रिका है जिसे अब आॅनलाइन भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसके डिजिटल अंक जल्द ही सूचना विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे। नया दौर के फेसबुक पेज पर इस वर्ष के सभी डिजिटल अंक मौजूद हैं। गौरतलब है कि ईरान कल्चर हाउस के सांस्कृृतिक काउंसलर ने ’नया दौर’ के अक्टूबर 2017 के अंक की प्रशंसा में सूचना विभाग को पत्र भेजा है। ‘नया दौर’ का अक्टूबर का अंक लखनऊ के मोहर्रम से सम्बंधित उर्दू साहित्य पर केंन्द्रित है। मोहर्रम में पढ़े जाने वाले सलाम, मरसिये और नोहे इस अंक में विशेष रूप से शामिल किए गए हैं।
लखनऊ में नवाबी दौर के मोहर्रम तथा उसके बाद के मोहर्रम की परंपराएं, जुलूस, मातम, अज़ादारी, शामे ग़रीबां, बहत्तर ताबूत का जुलूस जैसी लखनऊ के मोहर्रम की विशेषताओं पर लेख शमिल किए गए हैं। श्री झा ने इस पत्र में कहा है कि पत्रिका की भविष्य में भी प्रतिष्ठा के अनुरूप इसमें साहित्यिक कृृतियों का समावेश किया जाता रहेगा। श्री झा ने ईरान के काउंसलर को भेजे पत्र में यह भी लिखा है कि उन्हें उम्मीद है कि भविष्य में भी ’नया दौर’ के अंकों की तारीफ भी आप की ओर से मिलती रहेगी।
बता दें कि इस पद पर अपना कार्यभार संभालने के पूव्र्र वे कन्नौज के जिलाधिकारी के रूप में अपनी छाप छोड आए हैं। शिक्षा के क्षेत्र में लोग बेहतर कार्य करें, यही इनकी सोच है। इनका कहना है कि जब समाज का हर कोई शिक्षित होगा, तो कई समस्याएं स्वतः ही समाप्त हो जाएगी। सूचना निदेशक अनुज कुमार झा ने कहा कि पत्रकारों की जो भी समस्या या सुझाव आएंगे उन्हें हर हाल में पूरा किया जाएगा उन्होंने भरोसा दिलाया कि किसी भी समस्या के लिए 24 घंटे उनका फोन चालू रहेगा कोई भी पत्रकार साथी अपनी समस्या बता कर पूरा मामला उनके संज्ञान में लाए तो हर हाल में कार्रवाई होगी। उन्होंने यह भी कहा कि टोल फ्री नंबर को चालू कर दिया जाएगा और प्रभावी कार्यवाही की जाएगी इससे पूर्व उन्होंने पत्रकारों से परिचय प्राप्त किया और अपना परिचय भी कराया प्रदेश के नए सूचना निदेशक अनुज कुमार झा आज एनेक्सी स्थित मीडिया सेंटर पर पत्रकारों से रू-ब-रू थे. आईएएस अफसर बिहार के मधुबनी के मूल निवासी हैं। उन्होंने बीएससी के बाद एमए की शिक्षा ग्रहण की और वर्ष आईएएस में चयनित होकर अपनी सबसे पहली प्रशासनिक शुरुआत ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के रूप में मुरादाबाद जिले से की यहां से उन्हें झांसी का सीडीओ बना दिया गया और उनकी कार्य कुशलता व प्रशासनिक कार्यों को देखते हुए महोबा कन्नौज और रायबरेली में डीएम के रूप में तैनाती मिली. युवा मधुर व्यवहार कुशल और काम का जज्बा लिए अनुज कुमार झा यकीनन मीडिया के लिए एक अच्छे अधिकारी साबित होंगे ऐसी उम्मीद उनसे जताई जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.