मुख्य सचिव के साथ हुई मारपीट के मामले में राजनाथ सिंह ने की रिपोर्ट तलब

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ मारपीट की कथित घटना के साथ शुरू हुआ विवाद अभी थमता नहीं दिख रहा है। जहां एक तरफ इस पूरे मामले में दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार और आईएस एसोसिएशन आमने-सामने नजर आ रही है तो वहीं अब इस मसले पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली के एलजी से रिपोर्ट तलब की है। राजनाश सिंह ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा कि मैं इस घटना से बहुत दुखी हूं। उन्होंने कहा कि मामले में इंसाफ किया जाएगा, आईएएस डैनिक्स एंड सबऑर्डिनेट सर्विसेज के प्रतिनिधि मंडल से मेरी मुलाकात हुई है और उन्होंने मुझे इस पूरी घटना की जानकारी दी है। साथ ही उन्होंने कहा कि नौकरशाह को बिना किसी डर के सम्मान के साथ काम करने देना चाहिए। गृह मंत्री ने दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से मुलाकात भी की। वहीं आईएस एसोसिएशन ने इस घटना पर नाराजगी जताते हुए हड़ताल को घोषणा कर दी है। एसोसिएशन की चेतावनी दी है कि जबतक आरोपी विधायकों पर कार्रवाई नहीं होगी हड़ताल जारी रहेगी। इसके अलावा दिल्ली के तमाम बड़े सरकारी अधिकारी राजपथ पर कैंडल मार्च भी निकालने जा रहे हैं। इससे पहले आईएस अधिकारियों का प्रतिनिधी मंडल एलजी से मिलकर वहां भी अपनी शिकायत दर्ज करा चुका है।
दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया है कि सोमवार रात को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर हुई बैठक में सीएम के सामने आम आदमी पार्टी के तीन विधायकों ने उनके साथ मारपीट की है। हालांकि आप पार्टी ने इस तरह के किसी भी आरोप को बेबुनियाद बताया है। मारपीट के मुख्य आरोपी अमानतुल्‍लाह खान ने इन आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है वहीं पीड़ित मुख्य सचिव ने गृह मंत्री, उपराज्यपाल से न्याय की मांग की है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.