रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम ने मन मोहा

नई दिल्ली। बीते दिनों दिल्ली विश्वविद्यालय के जानकी देवी मेमोरियल काॅलेज ने धूमधाम से 59 वां वार्षिक महोत्सव समारोह मनाया। इस बार वार्षिक महोत्सव का थीम बीते वर्षों से भिन्न था। वार्षिकी का थीम था एक्ट, एक्ट इन द लिविंग पे्रजेंट। इस मौके पर समाज के प्रतिष्ठित व्यक्तियों ने इसे और जानदार बनाया। यहां अतिथि केे रूप में पायल मेगो, प्रोफसर सुषमा यादव, डाॅक्टर इंदु आनंद, डाॅक्टर जोशी और काॅलेज के बीते वर्षों के प्रिंसिपल मौजूद थे। वार्षिकी का आरंभ दीप प्रज्वल्लन और काॅलेज प्रार्थना से हुआ। इस मौके पर काॅलेज की प्रिंसिपल डाॅक्टर स्वाति पाल ने अभिनंदन ज्ञापन देने के बाद मौजूद अतिथियों, स्टाफ, स्टूडेंट और अभिवाकों का स्वागत किया। इसके बाद डाॅ स्वाति जी ने काॅलेज की एनुअल रिपोर्ट से मौजूद अतिथियों को रूबरू कराया। इस एनुअल रिपोर्ट के मुख्य बिंदु थे काॅलेज को मिला B++ ग्रेड नैक एक्रीडेशन, बीए इंगलिश, सोशियोलाॅजी, फिलाॅसफी में सौ प्रतिशत पास रेट और बीए इकोनाॅलिक्स का 88 प्रतिशत फस्र्ट डिविजन और बीकाॅम में 86 प्रतिशत फस्र्ट डिविजन परिणाम। इस मौके पर डाॅक्टर स्वाति ने 200 से ज्यादा स्टूडेंट के नाम घोषित किए, जिन्होंने हर श्रेत्र में बेहतरीन परिणाम दिया है। उन्होंने ज्ञापन में बताया कि यह साल काॅलेज के स्पोर्ट डिपार्टमेंट ने उम्दा किया। स्पोर्ट डिपार्टमेंट ने बिटस वुमन फुटबाॅल में चैंपियन टाइटल जीता। इस प्रतियोगिता में 19 राज्यों ने भाग लिया था। इसके अलावा डाॅक्टर स्वाति पाल ने स्टूडेंट और टीचर की उपल्बिधयों को सराहा और उनकी हौसला अफजाई की। मसलन पिछले साल काॅलेज फैक्लिटी के 43 इंटरनैशनल पब्लिकेशन उनके नाम हुए, 19 इंटरनैशनल पेपर प्रिजेंटेशन दिए और कई को पीएचडी की डिग्री से सम्मानित किया गया। प्रिंसिपल ने रिपोर्ट के अंत में काॅलेज सोसायटीज और उनके काॅलेज की प्रगति पर चर्चा की। जिसमें बताया कि पिछले साल कि काॅलेज का एक एमओयू यूनिवर्सिटी आॅफ मुनस्टर और डिपार्टमेंट आॅफ सोशियोलाॅजी के साथ है। इस एमओयू का उद्देेेेेश्य है महिलाओं के लिए सुरक्षित समाज का निर्माण। डाॅक्टर स्वाति ने बताया कि इसमें काॅलेज में पार्ट टाइम काॅउंसलर सान्या बेदी का काफी अहम भूमिका है। इसी मौके पर काॅलेज की एनुअल मैगजीन जानकी को भी लाॅन्च किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.