खसरा.रूबेला टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के परिवार कल्याण निदेशालय ने यूनिसेफ,डब्लयूएचओ और अन्य सहभागियों के सहयोग से दिल्ली में खसरा-रूबेला टीकाकरण अभियान पर राष्ट्रीय मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया। इस कार्यशाला का मकसद भारत में चल रहे खसरा-रूबेला टीकाकरण अभियान बावत मीडिया का संवेदीकरण करना और खसरा-रूबेला टीकाकरण अभियान को लेकर राज्य की तैयारियों के बारे में बताना था।

दिल्ली में यह अभियान 16 जनवरी 2019 को लांच होगा। पांच सप्ताह चलने वाले एमआर अभियान का उद्वेश्य 9 माह से लेकर 15 साल तक आयुवर्ग के करीब 55 लाख बच्चों को कवर करना है। इसमें दिल्ली के सभी 11जिलों के प्रीस्कूल बच्चे,स्कूली बच्चे (सरकारी व निजी) और स्कूल से बाहर वाले बच्चे शमिल हैं।

इस मीडिया कार्यशाला में हिस्सा लेने वालों में भारत सरकार के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के उप कमिश्नर टीकाकरण डा. प्रदीप हलदर, दिल्ली सरकार के परिवार कल्याण निदेशालय की निदेशक डा. नुपुर मुंडेजा, दिल्ली सरकार के परिवार कल्याण निदेशालय की पीओ -टीकाकरण डा. रीना यादव, दिल्ली सरकार के परिवार कल्याण निदेशालय के SEPIO डा. सुरेश सेठ ,यूनिसेफ के डा. भ्रिगु कूपरिया,डब्लयूएचओ के डा.पंकज भटनागर और राष्ट्रीय व प्रांत का मीडिया शमिल है। प्रिंट,ऑनलाइन व टीवी मीडियापर्सन उपस्थित थे।

भारत 2020 तक खसरा के खात्मे और रूबेला नियंत्रण/कंजाइटल रूबेला सिंड्रोम (सीआरएस) के लिए प्रतिबद्व है। दुनिया के अब तक के सब से बड़े टीकाकरण अभियान का उद्वेश्य 9 माह से लेकर 15साल की आयुवर्ग के अंदाजन 40 करोड़ बच्चों को कवर करना है। इस अभियान के दौरान बच्चों को खसरा-रूबेला (एमआर) का एक ही टीका दिया जाएगा। 2017 से जब से एमआरवी अभियान लांच किया गया,तब से अब तक इस अभियान के तहत 30 राज्यों व केंद्र शासित क्षेत्रों में करीब 20 करोड़ से अधिक बच्चे कवर किए जा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.