देश लूट कर भागे लोग पकड़े जाएंगे : मोदी

odi

मदुरै, तमिलनाडु। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद के खिलाफ लड़ाई के अपनी सरकार के संकल्प को दोहराते हुए रविवार को जनता को आश्वासन दिया कि आर्थिक अपराधियों को कानून के हवाले किया जाएगा। उन्होंने अपने राजनीतिक विरोधियों पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी मुहिम के कारण ही विपक्षी पार्टियां महागठबंधन बनाने को विवश हुई हैं। उन्होंने यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की एक रैली को यहां संबोधित करते हुए कहा, ‘‘देश को लूटने और धोखा देने वाला हर व्यक्ति चाहे वह देश में हो या विदेश में, न्याय के समक्ष खड़ा किया जाएगा।’’

प्रधानमंत्री विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी जैसे आर्थिक अपराधियों की ओर इशारा कर रहे थे। इन सभी की बैंकों के कर्ज के साथ हेराफेरी के मामलों में तलाश है तथा ये इस समय भारत से भाग कर अन्य देशों में रह रहे हैं। उन्होंने सभा में उपस्थित विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार देश को भ्रष्टाचार और भाई भतीजावाद से छुटकारा दिलाने के लिये प्रभावी कदम उठा रही है।

मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई से चेन्नई से लेकर दिल्ली तक खलबली मच गयी है। उन्होंने कहा कि सरकारी ठेकों और समाज कल्याण योजनाओं में अलग-अलग तरह के बिल बनाने वाले लोग अब मुश्किल में हैं। उन्होंने विपक्षी दलों के प्रस्तावित महागठबंधन पर हमला करते हुए कहा कि इसी कारण (भ्रष्टाचार के खिलाफ केंद्र सरकार की कार्रवाई के कारण) वे एक साथ जमा हो रही हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘वे कहते हैं कि इस चौकीदार को हटाने के लिये उन्हें तमाम विरोधों को त्यागकर एकजुट होना पड़ेगा। वे डर और विरोधभाव में कितना ही बड़ा समूह क्यों नहीं बना लें, नरेंद्र मोदी गरीबों के साथ पूरी ताकत से खड़ा रहेगा।’’ उन्होंने तमिलनाडु के युवाओं और मदुरै के लोगों से इन नकारात्मक ताकतों को खारिज करने की अपील की। उल्लेखनीय है कि तमिलनाडु में एम.के.स्टालिन के नेतृत्व वाली डीएमके भी भाजपा विरोधी गठबंधन में सक्रिय भूमिका निभा रही है। स्टालिन ने पिछले महीने एक सार्वजनिक रैली में प्रधानमंत्री पद के लिये राहुल गांधी का नाम प्रस्तावित किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.