बेंगलुरू : सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के नये मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के लिए 15 दिन के भीतर बहुमत सिद्ध करने की अवधि शुक्रवार को घटा दी और कहा कि विधानसभा में शनिवार की शाम चार बजे शक्ति परीक्षण कराया जाये. इससे यह पता लग सकेगा कि येदियुरप्पा के पास पर्याप्त संख्या में विधायक हैं या नहीं. कोर्ट ने कहा कि शक्ति परीक्षण के मामले में सदन के अस्थायी अध्यक्ष कानून के अनुसार निर्णय करेंगे. कोर्ट के इस फैसले के बाद 104 सीटों वाली भाजपा को शनिवार को बहुमत सिद्ध करना होगा.
कांग्रेस और जेडीएस अपने विधायको की खरीद फरोख्त से बचाने की पूरी कोशिश कर रही है. आज सुबह सभी विधायकों को हैदराबाद से बेंगलुरु के ईगलटन रिजॉर्ट लाया गया है. जहां कांग्रेस कह रही है कि उसका एक विधायक लापता है वहीं भाजपा का दावा है कि उसके संपर्क में कांग्रेस के चार विधायक हैं.
इधर, जेडीएस के नेता एच डी कुमारस्वामी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी ने बेंगलुरू से उसके दो विधायकों का ‘‘ अपहरण ‘ कर लिया है. हालांकि कुमारस्वामी ने आशा जतायी कि वे शनिवार सुबह उनके खेमे में शामिल हो जाएंगे. उन्होंने संवाददाताओं से बात करते हुए दावा किया कि भाजपा कई तरह का लालच देकर उनकी पार्टी के विधायकों को ‘‘ खरीदने का ‘ प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा , ‘‘ भाजपा के पास सरकार बनाने के लिए संख्याबल नहीं है. कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन द्वारा शनिवार को विश्वास मत गिराया जाएगा.’
कुमारस्वामी ने कहा कि हमें पता है कि बेंगलुरू से दो विधायकों का अपहरण कर लिया गया था. एक विधायक हमारे संपर्क में है. शनिवार सुबह वह हमारे खेमे में शामिल होने वाले हैं. यहां चर्चा कर दें कि शुक्रवार सुबह हैदराबाद पहुंचकर नोवोटल होटल में ठहरे जेडीएस विधायक बीती रात ही बेंगलुरू के लिए रवाना हुए थे. कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा है कि भाजपा ने कांग्रेस विधायक आनंद सिंह का अपहरण किया है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का दुरुपयोग करके भारतीय जनता पार्टी ने ये कदम उठाया है. वहीं कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने भी कहा कि आनंद सिंह को कैद किया गया है.
बहुमत परीक्षण के लिए गवर्नर ने प्रोटेम स्पीकर के तौर पर भाजपा विधायक केजी बोपैया को नियुक्त किया है. सदन में सबसे सीनियर विधायक को ही इस पद पर रखा जाता है. बोपैया तीन बार विधायक रह चुके हैं. शक्ति परीक्षण प्रोटेम स्पीकर की निगरानी में ही होगा. इधर, कांग्रेस ने कहा कि यह नियमों के खिलाफ है. आदर्श तौर पर सबसे सीनियर सदस्य को इस पद के लिए चुना जाता है.

कर्नाटक में सियासी घटनाक्रम

12 मई : कर्नाटक विधानसभा के लिए वोटिंग
15 मई : परिणाम घोषित, त्रिशंकु विस, भाजपा बड़ी पार्टी, कांग्रेस-जदएस ने गठबंधन कर सरकार बनाने का किया दावा पेश
16 मई : राज्यपाल ने भाजपा को दिया न्योता, बहुमत के लिए 15 दिन, फैसले के खिलाफ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन पहुंची सुप्रीम कोर्ट
16-17 मई : सुप्रीम कोर्ट में आधी रात को सुनवाई, शपथ पर रोक नहीं
17 मई : येदियुरप्पा ने सुबह नौ बजे मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली
18 मई : सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को शाम चार बजे बहुमत साबित करने को कहा